DELHI SHRAMIK SANGATHAN

Home » Articles posted by DELHI SHRAMIK SANGATHAN (Page 2)

Author Archives: DELHI SHRAMIK SANGATHAN

अधिकारी मालामाल निर्माण मज़दूर बेहाल

दिनाॅक 12/09/2018 को दिल्ली निर्माण मज़दूर संगठन के हजारों श्रमिकों ने श्रमायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन किया। दिल्ली मे निर्माण मज़दूरों को दिल्ली भवन एवं सन्निर्माण बोर्ड के माध्याम से सामाजिक सुरक्षा देने का प्रावधान है। सामाजिक सुरक्षा का लाभ लेने के लिये मज़दूरों को इस बोर्ड मे पंजीकरण करवाना होता है। दिल्ली मे 2005 से इस बोर्ड मे पंजीकरण का कार्य शुरू हुआ। पंजीकरण का कार्य दिल्ली के नौ जिलों  मे होता है। (more…)

निर्माण मज़दूरों का लेबर कमिश्नर के ऑफिस पर धरना

Sub: Notice of peaceful dharna (sit-in) at your office for the below mentioned issues:

To

The Secretary cum Labor Commissioner

Department of Labor,

Government of NCT of Delhi

5, Sham Nath Marg, Delhi-110054

Sub: Notice of peaceful dharna (sit-in) at your office for the below mentioned issues:

  1. Denying the registration, renewal and processing of claim applications of construction workers under Delhi Building & Other Construction Workers Welfare Board (DBOCWWB) by Labor department officers since May’2018.
  2. Non settlement of pending cases since long- Non issuing of pass books to verified construction workers, illegal detention of pass books for renewal, lapse cases and claim applications under various social security schemes of DBOCWWB.

Dear Madam

We would like to introduce ourselves as registered construction workers union working for the education, awareness and organizing the construction workers of Delhi to achieve a dignified life. We also educate construction workers on Building & Other Construction Workers (RE&CS) act’1996 and Delhi Building & Other Construction Workers Welfare Rules’2002. We guide & facilitate construction workers to register with DBOCWWB and receive social security benefits from the Board. (more…)

दिल्ली श्रमिक संगठन, क्षेत्रीय श्रमिक सम्मेलन

क्षेत्रीय श्रमिक सम्मेलन
पश्चिम और दक्षिण पश्चिम जिले के 9 क्षेत्रो के श्रमिकों ने दिनाॅक 30 अगस्त 2018 को समुदाय भवन विकास नगर मे क्षेत्रीय श्रमिक सम्मेलन का आयोजन किया। इस सम्मेलन मे निर्माण श्रमिक एवं घरेलू कामगारों ने हिस्सा लिया। सम्मेलन के पहले सत्र मे अलग-अलग क्षेत्रो से आये निर्माण मज़दूरों के स्थानीय नेतृत्व ने अपने वक्तत्य रखे। 10 श्रमिकों ने अपने भाषण मे निम्नलिखित मुद्दों को शामिल किया।

वक्ताओं ने बताया कि मई माह से निर्माण मज़दूरों का पंजीकरण और नवीनीकरण का कार्य पुरी तरह से बन्द कर दिया गया है। मज़दूरों के लाभ आवेदन भी स्वीकार नही किये जा रहे है। काम क्यो बंद किया गया इसकी कोई जानकारी भी मज़दूरों को नही दी गई। (more…)

निर्माण मज़दूरों के कानून का एक दुखद अध्याय

साथियों, हमारे देश की अर्थव्यवस्था मज़दूरों की लूट और शोषण पर खड़ी है। चाहे राजतन्त्र हो या लोकतन्त्र, मज़दूरों की स्थिति मे कोई सुधार नही हुआ। आज देश मे मज़दूरों और किसानों की स्थिति को देखते हुये निराशा होने लगती है। दोनांे अपनी जगह मजबूर दिखते हैं। गांव मे भी उत्पादन का मोल नहीं और शहरों मे भी असहाय श्रम। देश के छोटे बड़े सभी शहरों में सुबह सुबह नाके/लेबर चैक पर सस्ते श्रम का बाजार सजता है। यहाॅं प्रतिदिन हजारों मज़दूर काम की तलाश में आते हैं जिनमें से कुछ हीं लोगों को काम मिल पाता है। जिन श्रमिकों को काम मिलता भी है तो उन्हें पर्याप्त मज़दूरी नहीे मिलती है, काम की सुरक्षा नहीं होती और ज्यादातर मज़दूरों की मज़दूरी भी मार ली जाती है।  ये सभी निर्माण श्रमिक हैं जो देश का निर्माण और विकास करते हैं और देश की अर्थव्यवस्था मे महज्वपूर्ण योगदान भी करते हैं।

(more…)

Sheharo Ke Nirmata

Naya Shitij Ki ore

%d bloggers like this: