Month: October 2016

Premchand Ki Sarvashreshta Kahaniyan

Book Description प्रेमचंद ने हिन्दी कहानी को निश्चित परिप्रेक्ष्य और कलात्मक आधर दिया। उनकी कहानियां परिवेश बुनती हैं। पात्रा चुनती हैं। उसके संवाद बिलकुल उसी भाव-भूमि से लिए जाते हैं जिस भाव-भूमि में घटना घट रही है। इसलिए पाठक कहानी के साथ अनुस्यूत हो जाता है। प्रेमचंद यथार्थवादी […]

Capital (Das Kapital)

This book has been specifically formatted for the Amazon Kindle reader. We did our best to take advantage of all the features of the kindle to maximize your reading experience with this book. This book contains all eight volumes of Capital. An extensive treatise on political economy written […]